Blue Film Dikha Kar Dost Ke Bahen Ko Choda - Hindi Sex Kahani

हेल्लो दोस्तों कैसे हो सभी लोग ? मुझे उम्मीद है की तुम सभी लोग अपनी दुनिया में खुश होगे और चुदाई का पूरा मज़ा ले ही रहे होगे | तुम सब लड़कियों की मस्त चुदाई करते होगे और उसकी चीख निकलने तक उनकी चुदाई करते होगे | मैं आशा करता हूँ की आप सभी चुदाई करते होंगे और लड़कियों को भी खुश रखते ही होगे | मैं कहानी प्रस्तूत करने से पहले मैं आप लोगो को अपने बारे में बता देता हूँ | मेरा नाम आकाश है | मेरी उम्र 27 साल है और मैं रहने वाला भोपाल का हूँ
| मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है | मेरे लंड का साइज़ 6 इंच लम्बा और मोटा 2 इंच है | मैं दिखने में इतना गोरा नही हूँ पर मेरी बॉडी ठीक ठाक है जिससे मैं अच्छा लगता हूँ | मैं अभी बी कॉम की पढाई कर रहा हूँ | मेरे घर मैं मेरे पापा और मेरी मम्मी के सिवा और कोई भी नही रहता है हम 3 लोग ही घर में रहते हैं | मेरे पापा की एक जनरल स्टोर की शॉप है और वो उसे ही चलते हैं | आज जो मैं कहानी लेकर आया हूँ मुझे विस्वास है की आप सभी लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और इस कहानी को पढने में आप लोगो को मज़ा भी आयेगा |
अब मैं अपनी कहानी शुरू करता हूँ | मैं बी कॉम में पढता था और मेरा उसी कॉलेज में मेरा एक दोस्त पढता था | मैं आप लोगो को अपने दोस्त के बारे में बता देता हूँ | मेरे दोस्त का नाम विकाश है और वो मेरा एक अच्छा दोस्त है | मैं और वो हमेशा एक ही साथ में रहते थे पर मैं कभी उसके घर नही गया था क्यकी वो मेरा दोस्त अभी बना था | एक दिन की बात है जब उसने मुझे अपने घर आने को कहा तो मैंने उससे कहा की यार क्या कोई जरुरी काम है तो उसने कहा हाँ | तब मैं उसके घर गया तो उसने बताया की अभी मझे कुछ सामन लेने जाना था तो और कोई घर पर था भी नही तो मैंने सोचा की तुम्हे ही बुला लूँ | तब मैं उसके सामन को उसके घर रखकर अपने घर चला आया | फिर मैं और वो कॉलेज गए थे उस टाइम मेरी एक गर्लफ्रेंड भी बन गयी थी | मैं उससे बाते भी किया करता था और वो भी मुझसे बाते किया करती थी | मैं आप लोगो को इस लड़की के बारे मैं बता देता हूँ | इसका नाम दीपा है और ये ज्यादा दिखने में गोरी भी नही है और न ही सेक्सी है पर मेरे पास भी कोई लड़की नही थी चुदाई के लिए तो मैंने सोचा की इसे ही पता लेटा हूँ | फिर कुछ दिनो के बाद की बात है जब मैंने उसे अपने साथ सेक्स करने को कहा को उसने माना कर दिया और बोली मैं वेसी लड़की नही हूँ | तब मैंने उससे कहा चल मादरचोद चुद ले यहाँ से तू साली इतनी खुबसूरत भी नही है की मैं तेरे आगे पीछे घुमू | एक दिन की बात है जब मैं अपने पापा के काम से लखनऊ जा रहा था तो मैंने अपने दोस्त को फ़ोन किया |

मैं – विकाश यार मैं लखनऊ जा रहा हूँ तू चलेगा ?
विकाश – यार मेरे पास टाइम नही है और तू सच में लखनऊ रहा है |
मैं – हाँ पर क्यूँ ?
विकाश – यार मेरी बहन भी लखनऊ जा रही है तो तू इसे लखनऊ छोड़ देना |
मैं – अबे तेरी बहन भी है तूने कभी बताया नही |
विकाश – यार वो लखनऊ में पढ़ती है और वहीँ होस्टल में रहती है और तूने कभी पूछा नही तो मैंने कभी बतया नही
मैं – ठीक है कब जाएगी तेरी बहन ?
विकाश – यार तू कब जायेगा ?
मैं – मैं तो आज और अभी जा रहा हूँ |
विकाश – ठीक है तुम मेरे घर से मेरी बहन को पिक कर लो |
मैं – ठीक है बोलो तैयार हो जाये |
फिर मैं तैयार होकर उसके घर गया | तब विकाश ने बताया की यार मेरी बहन को तुम उसके होस्टल तक छोड़ आना | मैंने कहा ठीक है | फिर जब मैंने उसकी बहन को देखा तो मेरी तो आंखे खुली की खुली रह गयी | मैं विकाश की बहन के बारे मैं बता देता हूँ | वो दिखने में गोरी थी बिलकुल दूध की तरह और उसका फिगर भी सेक्सी था | उसके बूब्स ज्यादा बड़े नही थे न ही उसकी गांड ज्यादा चौड़ी थी पर उसका सेक्सी फिगर देख कर मेरे तो होश ही उड़ गए | फिर विकाश मुझे और उसको बस स्टेंड तक छोड़ने गया | वो छोड़कर चला आया तो मैं और उसकी बहन बस में बैठ गए | तब उसने मुझसे कहा तुम्हारा क्या नाम है |
मैं – मेरा नाम आकाश है और तुम्हारा ?
वो – मेरा नाम प्रिया है तो तुम क्या करते हो ?
मैं – पढाई बी कॉम सेकेंड इयर में |
वो – अच्छा ठीक है |
मैं और वो ऐसे ही बात करने लगे | वो मुझे पूछती और मैं उससे पूछाता हम दोनों इस तरह बात करते रहे | फिर उसने कुछ देर बाद मुझसे पूछा की क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है तो मैंने कहा नही तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है तो उसने कहा नही | तब मैं समझ गया की ये मादरचोद है और मुझसे चुदना चाहती है | उस सीट पर मैं और वो ही बैठे थे कुछ देर बाद वो सोने लगी | तब मैं अपने फ़ोन में सेक्सी मूवी देखने लगा और उसने मुझे सेक्सी मूवी देखते देख लिया तो मैंने फ़ोन बंद कर लिया | तब वो मुझसे बोली की दिखाओ न मुझे पसंद है सेक्सी मूवी देखना | तब वो मेरे साथ सेक्सी मूवी देखने लगी | सेक्सी मूवी देख कर मेरा तो लंड एकदम लोहे की तरह खड़ा हो गया था और पास में मस्त सेक्सी लड़की बैठी हो तो बिना चोदे मन मानता नही | फिर मैंने उसके हाथ को पकड कर अपने लंड को पकड़ा दिया और वो मेरे लंड को पकड कर मसलने लगी | फिर क्या था मैंने भी उसकी होठो पर अपने होठ रख दिए और उसकी होठो को चूसने लगा | वो भी मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ में उसके कपड़े के अन्दर हाथ डाल कर उसके बूब्स को दबाने लगा | मैं उसको ऐसे ही बस में 5 मिनट तक करता रहा और फिर मैंने उसे माना किया कहा बस है रूम नही चुप चाप बैठ जाओ पर उसकी चूत में आग लगी हुई थी | तब मैंने उससे कहा हम लखनऊ पहुचते ही एक होटल में चलेंगे मैं तुम्हरे साथ सेक्स करूँगा | तब वो मान गयी और फिर हम दोनों ऐसे ही बाते करने लगे | फिर कुछ घंटो में बस लखनऊ पहुच गयी | मैं और प्रिया एक होटल में रूम लिया और मैं बियर लेके आया | मैंने उसे बियर पिलाया और खुद पी फिर मैंने उसे बाँहों में भर कर बेड पर लेटा दिया और उसकी कोमल होठो को अपने मुंह में रख कर चूसने लगा | वो भी मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ में उसके बूब्स को कपड़े के ऊपर से दबा रहा था | वो मस्ती में मेरे लंड को अपने हाथ से पकड कर पेंट के ऊपर से दबाने लगी | फिर मैंने उसके कपडे निकाल दिए और वो मेरे सामने 2 मिनट में ही ब्रा और पेंटी में आ गयी | मैं उसके बूब्स को ब्रा में केद देखा तो फिर मैंने उसकी ब्रा का भी हुक खोल दिया | फिर उसके गोल और चिकने बूब्स को मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं उसके चुचियों के निप्पल को मुंह में रख कर खीच खीच के उसके दूध को पिने लगा | वो मस्त आवाज में ऊऊऊऊ… आआआ.. उई उई उई मई मई माँ हाँ हाँ हाँ माँ माँ… करती हुई अपने बूब्स को चुसाने लगी | मैं उसकी ये आवाजे सुन कर और जोश में आ गया | मैं उसकी चूत में अपनी ऊँगली को घुसा दिया तो उसके मुंह से उई उई माँ उई माँ… हाँ हाँ हाँ… सी सी सी …… की सिसिकियाँ करने लगी | तब मैंने अपने कपडे निकाल दिए और अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया और मुंह में रख कर चूसने को कहा तो उसने माना कर दिया और बोली मैंने किसी के लंड को मुंह में नही लिया है | तब मैंने कहा की मुंह में रखो और चुसो तब उसने पहले तो मुंह में रख और निकाल दिया | फिर मैं उसके सर को पकड कर अपने लंड को उसके मुंह में डाल कर चुसाने लगा | तब वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | मैं अपने लंड को उसके मुंह में ऐसे ही 5 मिनट तक चुसाने के बाद उसकी टांगो को थोडा सा फ़ैल कर उसकी चूत में थूक लगा कर उसकी चूत के मुंह पर रख कर उसकी चूत में एक ही धक्के में घुसा दिया | उसकी चूत पूरी तरह से गीली हो गयी थी जिससे उसकी चूत में मेरा पूरा लंड घुस गया | मैं उसकी कमर को पकड़ कर उसकी चूत में जोर जोर के धक्को के साथ उसको चोदने लगा | मैं उसकी ऐसे ही मस्त ठुकाई करने लगा | मैंने उसकी चुदाई बहुत भयानक की फिर मैं उसकी चूत से लंड को बाहर निकाल झड़ गया | उस दिन मैंने उसका सारा चुदाई का भुत उतार दिया | फिर उसको उसके होस्टल छोड़कर अपने पापा का काम किया और फिर मैं अपने घर वापस चला गया | अब वो अक्सर मुझसे अपनी चुदाई कराया करती थी क्यकी मैं उसकी मस्त चुदाई करता हूँ |
ये थी मेरी कहानी | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | कहानी पढने के लिए धन्यवाद…………..